What is Web Hosting in Hindi, Types of Hosting

Web Hosting क्या है?, अगर Web hosting की बात की जाए तो यह किसी Website के लिए बुनियादी चीजों में से सबसे Important part है। सभी तरह की Website या Blog को Internet पर एक जगह की जरुरत होती है और यह web hosting के जरिए होता है।

Web Hosting Hindi, किसी भी नई Website या Blog को शुरू करते समय एक Domain Name के साथ अच्छे Hosting की ज़रूरत होती ही है।

कोई भी Website कैसे काम करेगी यह सब Web Hosting के Features, Performance और Uptime Quality पर ही depend करता है। अगर आप भी कोई website बनाना चाहते हैं या फ़िर Web Hosting के बारे में जानना चाहते हैं तो आप सही जगह पर हैं।

आज हम इस लेख मे आपको Web Hosting क्या है? कैसे काम करता है और कितने प्रकार की Hosting होती हैं? इनसे जुड़ी जानकारी के लिए इस post को पढ़ें।

What is Web Hosting in Hindi?


सभी तरह की websites को Web Hosting के जरिए Internet पर एक Space दी जाती है। किसी Company या Organization के website को पूरी दुनिया मे Internet के ज़रिए Web Hosting की सहायता से ही Access किया जाता है।

Web Hosting किसी भी website के files, images, videos और Other Content को एक ख़ास तरह के Computer पर Store करके रखता है, जिसे हम web server कहते हैं।

kya-hai-web-hosting-in-hindi

हम Web hosting को ऐसे समझ सकते हैं कि जिस प्रकार से किसी भी Human को रहने के लिए एक सुरक्षित और स्थायी जगह की ज़रूरत होती है, ठीक वैसे ही किसी Business, Newspaper और दुसरे Website की online जानकारी के लिए Web hosting Services की जरूरत होती है।

In Short, Web-Hosting का मतलब:-

"Web-Hosting, किसी Website की Files को Storage Space देना और सभी लोगों तक Internet की मदद से Access से है।"

Web Hosting कैसे कार्य करती है?


Web Hosting के जरिए किसी Website की Content को Web-servers पर Store कर दिया जाता है। जब भी कोई Internet User अपने Web browser के URL Bar पर किसी Domain Name को type करता है, मान लो कि आपने https://www.hindiwebcliq.com/ को अपने URL Address Bar में type किया तो Internet इस Domain name को उस web server से जोड़ देता है जहाँ पर इस website की Content Files पहले से ही Store की हुई हैं।

Web servers उस browser के अनुरोध को स्वीकार करते हुए आपके Computer तक Website की एक Copy पंहुचा देता है, जिसके कारण आपके web browser पर Website खुल जाती है। हर Website के लिए DNS अलग अलग होता है। DNS के इस्तेमाल से यह पता चलता हैं कि website कौन से web server पर मौजूद हैं।

 इसे भी पढ़े:-    Web Browser क्या होता हैं?

Types of Hosting - Web Hosting के प्रकार:

हर Website की जरूरतें अलग-अलग होती हैं जिसे ध्यान में रखते हुए ही सही Web Hosting को चुनना चाहिए। कोई Personal Blog की ज़रूरत, किसी Business Website से अलग होगी, ठीक इसी तरह Video Streaming Website की अलग।

Web Hosting Industry में कई तरह की Hosting Services हैं, लेकिन आज हम सिर्फ़ उन्ही Hosting के बारे मे जानेगे, जो आज के समय मे सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किए जा रहा है, जैसे:-
  • Shared Web Hosting
  • Dedicated Server Hosting
  • Cloud Hosting 
  • VPS Hosting
  • WordPress Web Hosting
तो चलिए अब हम थोड़ा विस्तार से इन सभी प्रकार के Hosting के बारे में जानते हैं:-


01). Shared Web Hosting:

Shared Hosting एक Hostel में रहने की ही तरह है। जिस तरह आप किसी Hostel में बहुतों के साथ रहकर अपने रहने का स्थान बांटते हैं। उसी प्रकार से Shared Web Hosting में एक physical server पर बहुत सारी websites को Host किया जाता है।

यहीं कारण हैं कि अन्य सभी Hosting के मुकाबले यह सस्ता होता हैं क्योंकि Server को operate करने की लागत आपके और अन्य के बीच बाँट दी जाती है।

Shared Hosting के लाभ:

  • इस Hosting को इस्तेमाल करना और इसकी Setup आसान है। 
  • Basic Websites के लिए Shared Web Hosting बढ़िया option है।
  • यह सस्ती होती है इसलिए इसे सभी खरीद सकते हैं।

Shared Hosting के नुकसान:

  • बहुत ही limited resources access करने को मिलती हैं।
  • अन्य Hosting की तुलना में ज़्यदा Security नहीं होती है।
  • Server को Share करने के कारण Website Performance पर असर होता हैं।
अगर आपका budget छोटा और कम है और आपको लगता है कि आपके Website की Traffic शुरवाती तौर पर कम होगी तो आपके लिए Shared Hosting एक Best Option हैं।

02). Dedicated Server Hosting:

Dedicated जैसा कि नाम से पहले ही पता चलता है। Dedicated Hosting का मतलब बस यही होता है। आपको एक Dedicated Server मिलता हैं। यह ठीक वैसा है कि आप अपने बंगले में रहने, उसका पूरा नियंत्रण और सारे रख रखाव का खर्च आप खुद ही उठाते हैं।

Dedicated Hosting में आपके Server का उपयोग सिर्फ आपकी host होने वाली Website ही करती हैं इसीलिए Dedicated Hosting, Shared के मुकाबले ज्यादा Secure होती हैं। इस तरह की Hosting E-commerce, बड़े database एवं High Traffic वाली website के लिए Best Option होती हैं।

Dedicated Hosting के लाभ:

  • ज्यादा Stable होता है। 
  • Security Features सबसे ज्यादा होती है। 
  • Client को Server के ऊपर ज्यादा Control और flexibility दिया जाता है। 
  • Client के पास full Administrative access होता है। 

Dedicated Hosting नुकसान:

  • Technical knowledge का होना जरुरी होता है।
  • Dedicated Hosting, सभी hosting के मुकाबले महंगा होता है। 
यह उन वेबसाइटों के लिए एक Best Option है जिनके लिए बहुत अधिक System Resources की आवश्यकता होती है।

03). Cloud Hosting:

अभी के समय में Cloud Hosting, Web Hosting का सबसे बेहतर तरीका है। इसमें Web Hosting Provider आपको Servers सर्वर्स का एक क्लस्टर प्रदान करता है और आपकी फाइल्स और रिसोर्सेज की कॉपी उन सर्वर्स पर बना दी जाती है ।

अगर कोई क्लाउड सर्वर किसी वजह से आपको सर्विसेज देने में असमर्थ होगा तो आपकी साइट का सारा ट्रैफिक दूसरे क्लाउड सर्वर पर automatically भेज दिया जाता है । इसके अनेक फायदे हैं – सर्वर फेल होने की स्तिथि में भी आपके कस्टमर्स की सर्विसेज पर कोई असर नहीं पड़ेगा, ये affordable होता है क्यूंकि आप केवल उन रिसोर्सेज का भुगतान करते है जिन का आप इस्तेमाल करते हैं । ये VPS से ज्यादा स्केलेबल होता है।

Cloud Hosting के लाभ:

  • यहाँ पर Server down होने के chances बहुत ही कम होते हैं क्यूंकि सभी चीज़ें cloud में उपलब्ध होती है.
  • High traffic को आसानी से handle किया जा सकता है।

Cloud Hosting नुकसान:

  • Root access नहीं मिलती है। 
  • Hosting थोडा ज्यादा महंगा होता है।

04). VPS Hosting:

ये होस्टिंग एक फ्लैट में रहने के सामान है, जहाँ आप भले ही आप अपना main गेट सबके संग शेयर करे पर अपने घर पर एक अन्य द्वार होने से आपको अपनी निजता भी प्राप्त होती है|

VPS होस्टिंग virtualization तकनीक का प्रयोग करती है, जिसके अंतर्गत एक physical server को virtually विभिन्न servers में विभाजित किया जाता है, परिणामवश एक ही server पर होते हुए भी बाकी websites आपके हिस्से के web space और संसाधनो का उपयोग नहीं कर पाती हैं| इस कारण ये होस्टिंग आपको निजता और सुरक्षा जैसे लाभ प्रदान करती है|

VPS Hosting के लाभ:

  • इस Hosting में सबसे बेहतर performance प्रदान करी जाती है।
  • इसमें एक dedicated hosting के तरह ही आपको full control मिलती है। 
  • इसकी privacy और security बहुत ही बेहतर होती है।
  • इसके अलावा इसमें आपको अच्छा support प्रदान किया जाता है।

VPS Hosting नुकसान:

  • इसमें आपको dedicated hosting के तुलना में कम resources प्रदान किया जाता है.
  • इसे इस्तमाल करने के लिए आपके पास technical knowledge का होना आवश्यक है.

अतः अगर आप कम लागत में dedicated server की विशेषताओं का लाभ उठाना चाहते हैं तो VPS होस्टिंग का चुनाव करें

05). WordPress Hosting:

Wordpress पर Blog की भारी तादाद और Popularity के कारण कई Companies ने Wordpress Website के लिए इसे सभी Hosting से अलग किया हैं। वैसे तो यह Shared Hosting ही होती है, लेकिन इसको Wordpress Website के लिए ही बनाया गया है।

WordPress Hosting में आपका Server Wordpress के लिए ही Configure किया जाता है और Wordpress Website के लिए सभी जरुरी Plugins, Security Features और Caching की सुविधा पहले से ही दे दी जाती है।

यह Hosting, Wordpress के अनुकूल होने के कारण आपकी Wordpress Website को अद्वितीय स्पीड प्रदान करती है और आप अपनी Website की देखरेख भी आसानी से कर पाते हैं। यह नए और पुराने दोनों Wbsites के लिए एक Best Option है, जो Wordpress CMS Platform का उपयोग करते हैं।


Linux vs Windows Web Hosting?:

आपके द्वारा Linux Hosting और Windows Hosting इन दोनों में से चुनी जाने वाली Hosting Service इस बात पर निर्भर करती है कि आपकी Website को किस प्रकार की technology की जरुरत है।

Linux Hosting औऱ Windows Hosting में क्या अंतर है?

आप Linux Hosting औऱ Windows Hosting दोनों Web Hosting में से किसी भी Hosting का उपयोग अपनी Website को Host कर सकते है, दोनों ही का Server Performance बहुत बढ़िया है।

#Linux Web Hosting: 

Linux एक free open source system है जिसके कारण Web Hosting Provider को अपने Hosting Server के Operating System के रूप में Linux का उपयोग करने के लिए किसी तरह का कोई Charge नहीं लगता है। यही वजह हैं कि Hosting Companies से User को Linux Hosting सस्ती कीमतों पर मिल जाती हैं। Linux Hosting की सस्ती कीमतों और अपने उपयोग करने के लचीलेपन(flexibility) के कारण अधिकांश Websites Linux Web Hosting का उपयोग करके ही Host की जाती है।

#Windows Web Hosting: 

Windows Hosting, में Server के Operating System के रूप में Windows का उपयोग करती है और Windows से License के लिए Hosting Companies को Pay करना होता है, इसीलिए ये Linux Hosting से महंगा होता है। इसमें ASP, .NET, Microsoft Access and Microsoft SQL Server (MSSQL) जैसी Windows-specific Technologies का इस्तेमाल होता हैं।

Web-Hosting कहाँ से खरीदें.?

अगर आप Internet पर Search करेंगे तो आपको बहुत सारी Best Web-Hosting Providers मिल जाएंगे। नए User के लिए Web Hosting Company का चुनाव थोड़ा मुश्किल हो जाता हैं, लेकिन अगर आप कुछ Factors पर ध्यान दें, तो आप आसानी से एक अच्छी Hosting Company को चुन पाएँगे।

आप Web Hosting लेने से पहले निम्न बातों पर जरूर ध्यान दें:-
  1. आपकी Website की Requirement,
  2. मिलने वाली Web Hosting की कीमतें,
  3. Free Value-added Services के बारे में,
  4. Bandwidth/ Uptime/ Upgrade Plans की जानकारी
  5. Backup/ Storage / Security से जुडी जानकारी,
  6. Hosting Company का Credibility, 
  7. Hosting Provider की User Review कैसा हैं?
  8. Customer Support Option कैसी हैं। 

यह बहुत जरुरी है कि आप Hosting लेते समय अच्छे Web-Hosting Provider or Plan को चुने जो आपकी Website, Traffic और उसकी Security के लिए सही हो क्यूंकि आप कभी भी अपनी Website को Slow और उसका Crashed होना पसंद नहीं करेंगे।

आप सभी जरूर बताए Web hosting पर यह लेख कैसा लगा.? Friends आगे भी हम कुछ और "Web Hosting से जुडी नयी जानकारी " आपके साथ Share करेंगे।

अगर आपको मेरा यह Post "Web Hosting Kya Hai in Hindi" अच्छा लगा या कोई जानकारी देनी हो तो Comment करे। आप अपने Friends के साथ इस Article को जरूर Share करें।
loading...

What is Web Hosting in Hindi, Types of Hosting What is Web Hosting in Hindi, Types of Hosting Reviewed by Kumar Mritunjay on May 16, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.