How To Improve Battery Life Of Gadgets - आसान तरीके गैजेट की बैटरी लाइफ बढ़ाने के

दोस्तों , आजकल गैजेट्स हमारी जिंदगी से ऐसे जुड़ चुके हैं कि कभी-कभी उनका ना होना हमें अधूरेपन का एहसास कराने लगता है. चाहे वो हमारा स्मार्टफोन हो, टैबलेट हो या फिर हमारा लैपटॉप, ये सभी हमारी जिंदगी का एक जरूरी हिस्सा बन चुके हैं. लेकिन ऐसे में जब काम के वक्त इनकी बैटरी हमें धोखा दे जाए तो फिर परेशान होना लाजमी है.जैसे-जैसे स्मार्टफोन ,टैबलेट,  बैटरी या फिर हमारा लैपटॉप पुराना होता जाता है, बार-बार पावर प्लग इस्तेमाल करने की ज़रूरत भी बढ़ती जाती  हैं। आज के इस ब्लॉग  लेख में ; मैं आपको बैटरी लाइफ बढ़ाने के बारे में बताने वाला हूँ ,आप इन्हें जाने और मुझे बताये की आपको ये कैसी लगी ...?
 आपका इनके बारे में क्या कहना है 

आसान तरीके गैजेट की बैटरी लाइफ बढ़ाने के 

Improve-Battery-Life


आप जानते है कि आज की तारीख में ज्यादातर Smartphone हाई-रिज़ॉल्यूशन वाले बड़े डिस्प्ले, पावरफुल प्रोसेसर और ज्यादा मैमोरी के साथ आते हैं। इनका मकसद मल्टी-टास्किंग और मुश्किल काम को भी आसानी से पूरा करने का होता है। हालांकि, इसका मतलब यह भी है कि ऐसे में फोन की बैटरी को पूरे दिन चलने में परेशनी होगी और इस कारण से ही पावर बैंक मजबूरी बन गए हैं। ऐसा ही Laptop के बारे में भी कहा जा सकता है। जैसे-जैसे इसकी बैटरी पुरानी होती जाती है, बार-बार पावर प्लग इस्तेमाल करने की ज़रूरत भी बढ़ती जाएगी। हमारे द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले ज्यादातर इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइस लिथियम इयॉन और लिथियम पॉली बैटरी के साथ आते हैं। ये क्विक चार्ज़ फ़ीचर से तो लैस होते हैं लेकिन ज़रूरी नहीं है कि आपको लंबी बैटरी लाइफ मिले। बैटरी की उम्र को ध्यान में रखते हुए लैपटॉप को अपग्रेड करने से बेहतर बैटरी बदलना होता है।

चाहे आप स्मार्टफोन, Tablet या फिर लैपटॉप इस्तेमाल करते हों। ये टिप्स आपके डिवाइस की बैटरी लाइफ बढ़ाने में मदद करेंगे।

1) तापमान का रखें ध्यान     

क्या आप बैटरी को ऊंचे तापमान में इस्तेमाल करना, इसकी साइकलिंग से भी ज्यादा परेशान करने वाला हो सकता है। ज्यादा तापमान और बढ़ती उम्र धीरे-धीरे बैटरी की परफॉर्मेंस को कम कर देते हैं। कम तापमान  में डिवाइस का इस्तेमाल करने से उसकी लाइफ साइकल बेहतर होगी।  तपती गर्मी में अपने मोबाइल को कार के डैशबोर्ड पर छोड़ने की गलती ना करें। स्मार्टफोन ( Smartphone ) के ज्यादा गर्म होने की समस्या से परेशान होना वाजिब है, क्योंकि बीतते समय के साथ बैटरी लाइफ बहुत ज्यादा कमज़ोर हो जाती है। लैपटॉप में भी इस बात का ध्यान रखें कि आप कूलिंग पैड का इस्तेमाल कर रहे हैं, ताकि सीपीयू वेंट से गर्म हवा आसानी से निकल जाए। धूल के कारण अक्सर लैपटॉप का वेंट बंद होने लगता है जिस कारण से उसमें बने पंखों को ज्यादा काम करना पड़ता था, धीरे-धीरे यह भी आपके लिए खर्च बढ़ाने का काम करता है। इसलिए सफाई रखें, खासकर धूल को ज़रूर हटाएं।

2) लोकेशन ट्रैकिंग बंद कर दें

एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि फेसबुक ऐप आईफोन की बैटरी को जल्दी खत्म कर देता है क्योंकि यह बार-बार जीपीएस मॉड्यूल का इस्तेमाल करके यूज़र की लोकेशन जानता रहता है। ऐसे में जिन ऐप को आपके लोकेशन की ज़रूरत नहीं है, उनके लोकेशन ट्रैकिंग को ऑफ कर देने से ज़रूर मदद मिलेगी। ज्यादा एंड्रॉयड डिवाइस पर आप सेटिंग्स के बाद लोकेशन में जाकर लोकेशन ट्रैकिंग को पूरी तरह से ऑफ कर सकते हैं।

3) मुफ्त के ऐप से बचें, ऐप्स खरीदना शुरू करें

विज्ञापन के साथ आने वाले ऐप्स आपके डिवाइस की बैटरी लाइफ औसतन 2.5 से 2.1 घंटे तक कम कर सकते हैं। फोन का प्रोसेसर उसके दिमाग की तरह होता है और इस दिमाग के कुछ हिस्सों का इस्तेमाल विज्ञापन के लिए होता है जिस कारण से यह धीमा पड़ जाता है।

ऐसा नहीं है कि सभी फ्री ऐप्स आपकी बैटरी पर असर डाल रहे हैं, लेकिन अगर आपको उस पर कोई विज्ञापन नज़र आए तो समझ लीजिए कि यह बैंडविथ और प्रोसेसर पर असर डालेगा ही। ऐप्स के लिए पैसे चुकाने पर आपको कई फायदे होंगे। लैपटॉप पर टेक्स्ट को एडिट करने के लिए सिस्टम में मौजूद एप्लिकेशन को इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर होगा।


4) पूरी तरह से चार्ज़ करने से बेहतर है थोड़ा-थोड़ा चार्ज़

बैटरी को 100 फीसदी से सीधे ले जाकर शून्य पर खत्म करने से बेहतर है कि आप इसे 50 फीसदी तक ही डिस्चार्ज़ होने दें। 30 से 80 फीसदी के बीच का क्रम बनाए रखें। ऐसा करने से आपके बैटरी की डिस्चार्ज़ साइकिल तीन गुनी बढ़ जाएगी। लेनेवो (Lenovo ) इस सिद्धांत का इस्तेमाल बैटरी मेनटेनेंस सेटिंग्स में करता है। इसे आप अपनी ज़रूरतों के हिसाब से कस्टमाइज़ भी कर सकते हैं। बैटरी को कई साल तक इस्तेमाल करने योग्य बनाने कि लिए लेनेवो का सुझाव है कि आप चार्जिंग का पैटर्न 40 फीसदी से शुरुआत और 50 फीसदी पर बंद, तय कर दें।

5) डिस्प्ले की ब्राइटनेस कम करें

यह सुझाव लैपटॉप और मोबाइल डिवाइस पर लागू होता है। ज्यादातर डिवाइस में ब्राइटनेस सेटिंग्स को आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं डिवाइस के इनएक्टिव रहने पर आपका डिस्प्ले कितनी देर तक ऑन रहे, यह कम करके भी आप थोड़ी बैटरी बचा सकते हैं। एंड्रॉयड पर आप सेटिंग्स के बाद डिस्प्ले में जाकर यह तय कर सकते हैं। आईओएस में सेंटिग्स के बाद जनरल के बाद ऑटो-लॉक में जाकर आप सेटिंग को अपनी सुविधा के हिसाब से बदल सकते हैं। विंडोज लैपटॉप में बैटरी आइकन पर राइट-क्लिक करें, फिर पावर ऑप्शन पर जाये । इसके बाद सेटिंग को पावर सेवर में बदल दें। विंडोज इसके बाद अपने आप ही ब्राइटनेस को कम कर देगा। इसके अलावा आपका  लैपटॉप स्टैंडबाय और अन्य सेटिंग्स को बैटरी की परफॉर्मेंस के हिसाब से प्राथमिकता देने लगेगा।

6) वाई-फाई पर ऐप अपडेट करें या बैटरी चार्ज़ करते वक्त

आमतौर पर कोई भी एक्शन जिससे प्रोसेसर या बैंडविथ पर दबाव पड़ता है, वह ज्यादा ही सीपीयू पावर लेगा। सबसे बेहतर यही होगा कि यह एक्शन आम तौर पर स्थिर रहे और मोबाइल डेटा इंटरनेट के बजाय वाई-फाई का इस्तेमाल करे। ऐसे मे सबसे सही फैसला यही होगा कि आप अपने ऐप्स अपडेट को सिर्फ वाई-फाई पर शेड्यूल करें। अगर आपके डिवाइस में विकल्प मौजूद है तो सिर्फ चार्ज़ होते वक्त इसे शेड्यूल कर सकते हैं।

7) लो पावर मोड को ऑन करें

सभी एंड्रॉयड फोन में बैटरी सेवर मोड मौजूद नहीं होता  है। अगर आप एंड्रॉयड 5.0 या उसके बाद के वर्ज़न को इस्तेमाल कर रहें तो आपके डिवाइस पर इस मोड के मौजूद रहने की संभावना ज्यादा है। जैसे ही आपके फोन की बैटरी 15 फीसदी पर पहुंचती है, यह अपने आप एक्टिव हो जाता है। यह बैकग्राउंड ऐप रिफ्रेश, लोकेशन ट्रैकिंग और सिंक एक्टिविटी को बंद कर देता है, ताकि बैटरी लाइफ बचाई जा सके।

8) फ्लाइट मोड का इस्तेमाल करें

अगर आपका फोन सेलुलर टावर के नजदीक नहीं है तो इसका असर स्टैंडबाय टाइम पर भी पड़ेगा। अगर आप ऐसी जगह पर हैं जहां कोई नेटवर्क नहीं है तो बेहतर होगा कि फोन में एयरप्लेन मोड (फ्लाइट मोड) एक्टिव कर लें। आपका फोन ऐसी जगहों पर बार-बार नेटवर्क तलाश करेगा जिसका असर बैटरी लाइफ पर पड़ेगा।

9) अल्ट्रा-फास्ट चार्जर के इस्तेमाल से बचें

जितना हो सके अल्ट्रा-फास्ट चार्जर के इस्तेमाल से बचें. ऐसे चार्जर्स आपकी बैटरी के परफॉर्मेंस पर बुरा असर डालती हैं. सिर्फ और सिर्फ अपने गैजेट के चार्जर का ही इस्तेमाल करें.

10) नकली चार्जर के इस्तेमाल से बचें

अगर आपके डिवाइस का ओरिजनल चार्जर खराब हो जाए ट्रैफिक सिगनल पर बिकने वाले नकली और सस्ते चार्जर को खरीदने की सोचें भी ना. ऐसे चार्जर्स आपके बैटरी के साथ-साथ आपके गैजेट के लिए भी खतरनाक हैं.

                                           /----------------------THE END--------------------/

तो अगर आप अपने गैजेट की बैटरी बैकअप बढ़ाना चाहते हैं तो अभी से ही इन टिप्स को अपनाएं, यकीनन आपको फायदा जरूर दिखेगा.इन सुझावों का पालन करने पर आप पाएंगे कि आपका फोन पहले की तुलना में ज्यादा बेहतर बैटरी लाइफ दे रहा है।

NOTE : इस लेख को पढ़ने के लिये धन्यवाद ,अगर आपको  मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा तो कृपया Share करें। हमारे साथ Facebook, Twitter और Google+  Page पर जुड़ें।

क्या आपके पास बैटरी लाइफ बेहतर बनाने के सुझाव हैं तो कमेंट बॉक्स के जरिए हमें बताएं। इस लेख को पढ़ने के लिये धन्यवाद,!

"हिन्दी एक मातृभाषा है मात्र एक भाषा नही"
How To Improve Battery Life Of Gadgets - आसान तरीके गैजेट की बैटरी लाइफ बढ़ाने के  How To Improve Battery Life Of Gadgets - आसान तरीके गैजेट की बैटरी लाइफ बढ़ाने के Reviewed by Kumar on June 03, 2015 Rating: 5
Powered by Blogger.